किसान ने हेलीकॉप्टर से की किसान ने अपनी लाडली बेटी की विदाई, पर बेटी ने जो कहा सुनकर रो पड़े गाँव के लोग

loading...

कहते है बेटियां माँ बाप के लिए पराया धन होती है और इसीलिए शादी के बाद उन्हें अपने माता पिता से दूर अपने ससुराल जाना ही पड़ता है और यही दुनिया की रित है जो सदियों से चली आ रही है |बेटी की शादी में हर माँ बाप अपनी हसरते पूरी करते है |जो भी उनसे बन पड़ता है वो सब कुछ अपनी बेटी के आने वाले भविष्य के लिए करते है |दान दहेज़ देते है और ससुराल वालो की हर बात का भी मान रखते है |आज हम आपको उत्तरप्रदेश के बुंदेलखंड में रहने वाले एक किसान के बारे में बताने वाले है जो अपनी बेटी का एक सपना पूरा करने के लिए वो कर दिखाया जो सच में हैरान करने लायक है |

झांसी: उत्तर प्रदेश के हिस्से वाले बुंदेलखंड के किसान भले ही कर्ज और मर्ज का दंश झेल रहे हों, मगर बेटियों के लिए सब कुछ न्यौछावर करने का जज्बा उनमें अब भी कायम है. झांसी जिले के मैरी गांव के एक किसान दंपति ने रविवार को अपनी बेटी की विदाई हेलीकॉप्टर से कर यह साबित भी कर दिया. झांसी जिले के मैरी गांव के किसान राकेश यादव के तीन बेटियां और एक बेटा है, दो बेटियों की शादी उसने पहले ही कर दी थी. सबसे छोटी बेटी सुधा का विवाह पालर गांव के अजय के साथ की और बेटी की इच्छानुसार रविवार को उसकी विदाई हेलीकॉप्टर से की है.जिसे देख पूरा गांव हैरान रह गया |

राकेश सिंह यादव ने इस बारे में बताया कि उसकी लाड़ली बेटी ने उनसे शादी के पहले ही एक इच्छा जाहिर की थी की वोउसकी विदाई हेलीकाप्टर से करें जिसके बात उसके पिता ने ये फैसला किया की वे अपनी बेटी के इस इच्छा को जरुर पूरा करेंगे |वही इस बारे में जब दूल्हन बनी राकेश सिंह की बेटी से इस बारे में पूछा गया तो उसकी तो जैसे खुशी का ठिकाना ही न रहा. उसने कहा, “हेलीकॉप्टर से विदाई मेरा एक बहुत बड़ा सपना था, जिसे मेरे मम्मी-पापा और भाई ने मिलकर पूरा कर दिया. अब मैं जिंदगी भर मम्मी-पाप से कुछ नहीं मांगूंगी|मै बहुत ही ज्यादा खुश हूँ |

वहीँ इस अनोखी शादी के दौरान एक और खास बात थी जो गौर करने लायक थी और वो थी दुल्हे के गले में नोटों की माला जो सबका ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर रही थी |बता दे शादी के दौरान दूल्हे ने नोटबंदी के बाद जारी हुए दो-दो हजार के नोटों की माला पहन रखी थी जिसमे की करीब 6 लाख रुपये जुड़े होने की चर्चा थीशादी की सभी रस्मे पूरी होने के बाद इस शादी में सबसे ज्यादा लोगो के क्रेज था विदाई देखने का और हो भी क्यों ना विदाई भी तो ऐसी अनोखी होने वाली थी |

बता दे शादी की सभी रस्मों के बाद जब विदाई की बारी आई तो लोगों में इस अनोखी विदाई देखने की चाह उमड़ पड़ी. इस विदाई को देखने के लिए मैदान में हेलीकॉप्टर के चारों तरफ भारी भीड़ जमा हो गई. भीड़ में बच्चे और महिलाओं के अलावा तमाम बुजर्ग भी नजर आ रहे थे| शादी के दौरान उमड़ी भीड़ तब तक टकटकी लगाए उड़नखटोले को देखता रही जब तक की वह उड़ कर आंखों से ओझल नहीं हो गया.

आपको बता दे दुल्हन की ऐसी अनोखी विदाई को देखने सैकड़ों की संख्या गांव वालों की भीड़ उमड़ पड़ी थी जिसे देखते हुए हेलीकॉप्टर की सुरक्षा और किसी तरह की आपात स्थिति पैदा ना हो इसके लिए वहाँ पर पुलिस और फायर ब्रिगेड की एक दमकल भी मौजूद थी.

loading...
SHARE